हैरान था

हैरान था मैं देख कर
सर पर कतारें उसके ईंटों की
थोडा सोचा तो जाना की
असल बोझ तो
ज़िम्मेदारियो का था 

Comments

Popular Posts